BCCL Township, Dhanbad, Affiliated To CBSE - 3430148
 
Message(Regional Officer)  

 

DAV PUBLIC SCHOOLS JHARKHAND ZONE – C
MESSAGE – 1

 

 

  Dear Parents,

  Firstly, Let me share my joyous feelings on the incredible milestone and success of our      Alumni Shrestha Shree (2016 batch) in the UPSC Exam 2022.The untold story  speaks      of her harder and smarter work in the attainment of 444 rank in the most prestigious      exam of our country. It is an unprecedented occasion to celebrate success with the        entire DAV family and most particularly, it is a moment of pride and immense joy for     DAV Jharkhand Zone-C. Her success is an epitome of our rich legacy and it must be   preserved to guide others. The zone has also registered its recognition with immense laurels in the CBSE 10 & 12 board examination. Like every year, this time again our student Sweety Mandal  emerged  Dhanbad district topper in class 12 board exam. She got 98.8% marks in pure science stream. Dhanbad Zone is ever committed to ensure 100% result in all the streams.

Secondly, The summer vacation for DAV Jharkhand Zone-C is rescheduled from 6 June to 26 June 2022.On account of the CBSE board examination, this year's summer vacation is curtailed.

The brand DAV as lndia's largest non -profitable organization is an educational institution of distinction combining excellence with innovation. It redefines academic excellence with impetus on skill enhancement, research orientation and quality education under the visionary guidance of padmashri Punam Suri ji, President (DAV College Managing Committee, New Delhi), Shri J. P. Shoor ji, Director (PS-I), Dr. Nisha Peshin, Director (PS-II) and the other eminent personalities of DAV as well.

DAV organization has the largest chain of more than 900 schools in collaboration with CIL, TATA, SAIL, with 150 DAV Colleges and a premier DAV University at Jalandhar. DAV as the most sought-after school in India is run and managed by DAV CMC, New Delhi. It has always been in the pursuit of excellence in terms of academic delivery and value added quality of our students.

With a strong alumni base, DAV has established itself as a close-knit community of Students, faculty, staff, alumni that defines it as a forward-looking organization.It differentiates itself from other schools of India by its innovative pedagogy and its teaching excellence. To ensure effective learning outcomes, our curriculum and course content is designed with a variety of learning contexts, including guided independent study, collaborative learning, project-based learning, and experimentation. Through a system that integrates the best practices, we believe in embracing change and we are prepared to work with blended solutions in the interest of the society we serve.

We have a unique journey of aspirations, experiences and achievements. Our fee structure in comparison to all the other public schools of the areas are quite moderate and cheaper as it is a non -profitable organization meant for the service to society in the field of education. Keeping in mind the fee structure ,DAV schools ensure transparency in all kinds of financial status as it is approved by DAV CMC itself and LMC (Local Managing committee). Thereafter, the decision under the gracious guidance of governing bodies, is sanctioned and regulated . DAV organization  also facilitates our students with the books in minimum price (I.e.within ₹ 350-1200) as it has its own DAV Publication that ensures cost effective means of education across India. Its rich legacy of more than 150 years is committed to empower the society with quality education and the inculcation of Vedic virtues and values of life.

In order to shape the vision of our students in the interest of nation, vedic camps and Hawan are organised in the premises of our schools in which students are encouraged to involve wholeheartedly. DAV Public Schools under DAV CAE and LMC are also bound to foster a lifelong cordial relationship between schools and alumni to provide an effective platform for the benefit of the current students and alumni. DAV takes pride in finding an opportunity to nurture the relationship with alumnus by having Alumni Meet at different places. A host of luminaries in all the walks of life like influential leaders, actors, engineers, doctors, world class professionals, etc. Our hon'ble President of India Dr. Ramnath Govind, Information and broadcasting minister Shri Anurag Thakur ji, and a galaxy of luminaries are our  alumni we feel proud of.

Apart from this, DAV CMC also takes an extra effort in training our teachers throughout the year to match the standards in education. To achieve this objective, a special wing has been initiated as DAV CAE under the guidance of Dr. Nisha Peshin, Director (PS -II) and master trainers are also prepared in all the subjects to transfer the contents as per the need of students. Seminars, Webinars and other content based educational camps are conducted the whole year to update teachers with the modern means of effective teaching in classrooms. It is the only our organization that promptly looks after the needs of modern education system and seriously stresses upon the best practices to achieve the objectives.

The curriculum is a unique blend of strategic thinking and pragmatism with three dimensional focuses to achieve not only the highest standards of academic excellence but also the highly effective corporate interface backed with multi dimensional development opportunities. The students are nurtured to be emotionally intelligent through inculcating human values and professional ethics so that they surpass competition and excel better than the best.

The hallmark of our academic framework is prior planning and curricular flexibility. The course plan is created and tested well in advance and is available to students through Learning Management System much before the commencement of classes. The goal is to develop creative thinking and the spirit of enquiry. The campus is designed to meet the growing aspirations of the students, giving them enough space to reflect and relax while seriously pursuing their career ambitions in the classrooms, library and labs. We at DAV encourage our students to explore and experiment with their knowledge, skills and competencies to foster creativity and innovation.

The pandemic has brought a paradigm shift into the locus of educational institutions. Technology has become a leveraging factor to facilitate and augment the teaching learning process. Our teachers are well equipped with the latest use of technology to teach our children without any hindrance. DAV organization is a centre of possibilities and opportunities.

DAV Organization holds an enviable position in the educational scenario of India for quality and excellence. Thanks to efficient and vigilant management, it's steadily progressing on the growth path, which has laid out exacting standards in pedagogy and learning. We have earned an excellent reputation as a socially responsible institution because of the ethical dimension it provides to all its activities.

I hope the new academic year will be full of achievements and activities in academics. I wish you a great successful year ahead with promising performance of your wards in studies. Let's join our hands in the smooth sailing of schools and studies of your wards ideally.

With best compliments from 

Dr.K.C.Srivastava 

Regional Officer                                                                      

DAV Public Schools

Jharkhand Zone-C

 

 

 

डीएवी पब्लिक स्कूल्स झारखंड जोन- सी
संदेश - 1
 
 
प्रिय अभिभावक,
 सर्वप्रथम, मैं यूपीएससी परीक्षा 2022 में डी0 ए0 वी0 पब्लिक स्कूल कोयला नगर की पूर्ववर्ती छात्रा श्रेष्ठा कुमारी (2016 बैच)  की अविश्वसनीय उपलब्धि और सफलता पर अपनी खुशी व्यक्त करता हूं I भारत की सबसे कठिन परीक्षा में 444 रैंक प्राप्त करने वाली श्रेष्ठा ने परिश्रम से इस मुकाम को हासिल किया है I यह पूरे डीएवी परिवार के साथ सफलता का जश्न मनाने का एक अभूतपूर्व अवसर है, और विशेष रूप से यह डीएवी झारखंड जोन सी के लिए गर्व और अपार खुशी का क्षण है I श्रेष्ठा की सफलता हमारी समृद्ध विरासत का प्रतीक है और इसे दूसरों को अनुसरण करना चाहिए I डीएवी झारखंड जॉन सी ने सीबीएसई द्वारा आयोजित 10वीं और 12वीं बोर्ड परीक्षा में अपनी विशेष पहचान दर्ज किया है I हर साल की भांति इस बार भी हमारी छात्रा स्वीटी मंडल कक्षा बारहवीं बोर्ड परीक्षा में धनबाद जिला टॉपर बनकर उभरी हैं I उसे विज्ञान संकाय में 98.8% अंक प्राप्त हुआ हैI धनबाद झारखंड जोन सी सभी संस्थाओं में सत प्रतिशत परिणाम के प्रति प्रतिबद्ध हैं I
 डीएवी झारखंड जोन - सी के लिए गर्मी की छुट्टी 6 जून से 26 जून 2022 तक पुनः निर्धारित की गई है I सीबीएसई बोर्ड परीक्षा के कारण इस वर्ष की गर्मी की छुट्टी में कटौती की गई है I 
देश की सबसे बड़ी गैर-लाभकारी संगठन के रूप में ब्रांड डीएवी, नवाचार के साथ उत्कृष्टता के संयोजन का एक विशिष्ट शैक्षणिक संस्थान है  I पद्मश्री पूनम सूरी जी, अध्यक्ष  (डीएवी कॉलेज प्रबंधकृत समिति, नई दिल्ली)  श्री जेपी शूर जी, निदेशक (PS – 1) डॉ0 निशा पेशीन, निदेशक (PS – 2) एवं अन्य सम्मानित शिक्षाविदों के नेतृत्व में डीएवी संस्थान गुणवत्ता युक्त शिक्षा प्रसार के साथ शैक्षणिक उत्कृष्टता की ओर अग्रसर है I
 डीएवी संस्था के अधीन 900 से अधिक स्कूलों की सबसे बड़ी श्रृंखला है जो कोल इंडिया लिमिटेड, सेल, टाटा,   आदि के सहयोग से संचालित है I साथ ही, देश मे 150 डीएवी कॉलेज एवं जालंधर में डीएवी विश्वविद्यालय शिक्षा प्रसार के क्षेत्र में नए कीर्तिमान स्थापित कर रहा है I 
देश की सबसे लोकप्रिय विद्यालय के रूप में डीएवी का संचालन सीएमसी (नई दिल्ली) के तत्वाधान में सुनिश्चित है I यह हमारे छात्रों के सर्वांगीण विकास प्राप्ति के प्रति कटिबद्ध है I डीएवी संस्था ने छात्रों, शिक्षकों, कर्मचारियों एवं पूर्ववर्ती छात्रों की सामूहिक सहभागिता से खुद को एक घनिष्ठ समुदाय के रूप में स्थापित किया है I जो इसे दूरदेशी संगठन के रूप में परिभाषित करता है I अन्य विद्यालयों की तुलना में इसकी नवीन शिक्षा शास्त्र एवं शिक्षण पद्धति सबसे विशेष है I 
हमारी आकांक्षाएं, अनुभवों और उपलब्धियों की एक अनूठी यात्रा है I अन्य सभी विद्यालयों की तुलना में हमारी फीस संरचना काफी मध्यम और सस्ती है I क्योंकि यह उत्तम शिक्षा प्रसार के माध्यम से समाज कल्याण के प्रति संकल्पित है I शुल्क संरचना को ध्यान में रखते हुए डीएवी विद्यालय सभी प्रकार की वित्तीय स्थिति में पारदर्शिता सुनिश्चित करता है क्योंकि यह स्वयं डीएवी कॉलेज प्रबंध समिति (नई दिल्ली) तथा स्थानीय प्रबंध समिति द्वारा अनुमोदित है I यह संस्था हमारे छात्रों को न्यूनतम मूल्य यानी कि ₹350 से 1200  रुपए तक में पुस्तकें प्रदान करता है क्योंकि इसका अपना डीएवी प्रकाशन है जो पूरे भारत में न्यूनतम मूल्य पर प्रभावी साधन सुनिश्चित करता है I 
डेढ़ सौ से अधिक वर्षों की इसकी समृद्ध विरासत समाज को गुणवत्ता युक्त शिक्षा और वैदिक गुणों के समावेश से छात्रों को सशक्त बनाने की दिशा में कार्यरत है I छात्रों के समग्र विकास के लिए हमारे विद्यालय के परिसर में वैदिक शिविर और हवन आयोजित  किया जाता है  I 
प्रतिवर्ष डीएवी द्वारा एलुमनी मीट का आयोजन किया जाता है I राष्ट्र को नेतृत्व करने वाले अनेकों प्रभावशाली व्यक्तित्व की शिक्षा डीएवी संस्थान में हुई है  I हमारे भारत के माननीय राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद  , सूचना और प्रसारण मंत्री श्री अनुराग ठाकुर जी एवं अन्य डीएवी में अध्ययनरत रहे I इसके अलावा, डीएवी प्रबंधन हमारे शिक्षकों को शिक्षा के मानकों के आधार पर उत्कृष्ट शिक्षा प्रसार के लिए पूरे वर्ष प्रशिक्षण देने का प्रयास करता है I इस उद्देश्य को प्राप्त करने के लिए डॉ0 निशा पेशीन, निदेशक (PS – 2) के मार्गदर्शन में डीएवी -सीएई के रूप में एक विशेष विंग की शुरुआत की गई है एवं छात्रों की रूचि एवं आवश्यकता के अनुसार विषय वस्तु को स्थानांतरित करने के लिए सभी विषयों में मास्टर ट्रेनर तैयार  किया जाता है I
 कक्षाओं में प्रभावी शिक्षण के आधुनिक साधनों के साथ शिक्षकों को अद्यतन करने के लिए सेमिनार, वेबीनार और अन्य प्रकार की  शिक्षा शिविर पूरे वर्ष आयोजित किए जाते हैं I यह हमारा एकमात्र संगठन है जो अत्याधुनिक शिक्षा प्रणाली के तर्ज पर छात्रों को दिशा निर्देशित करने मे तल्लीनता से जूटा है I यहां के पाठ्यक्रम में रणनीतिक सोच और व्यावहारिकता का एक अनूठा मिश्रण है , जो न सिर्फ शिक्षा के क्षेत्र में उत्कृष्टता के उच्चतम मानकों को प्राप्त करने के लिए बल्कि बहुआयामी विकास के अवसरों को गढ़ने के प्रति प्रयासरत है I छात्रों में मानवीय मूल्यों एवं नैतिक विकास सुनिश्चित करने की दिशा में डीएवी की भूमिका अनुकरणीय है I
यहां की शैक्षणिक संरचना में लचीलापन है I लर्निंग मैनेजमेंट सिस्टम के माध्यम से छात्रों को सुनियोजित पाठ्यक्रम द्वारा शिक्षित बनाने में डीएवी की भूमिका सराहनीय है I हम अपने छात्रों में रचनात्मकता को बढ़ावा देने के प्रयास में अनेकों अवसर तैयार करते हैं I जिससे कि छात्रों में ज्ञान कौशल और दक्षता का विकास फलीभूत हो सके I 
महामारी ने शिक्षण संस्थानों में एक बदलाव लाया है I शिक्षण अधिगम प्रक्रिया को सुगम बनाने और बढ़ाने के लिए प्रौद्योगिकी एक लाभकारी कारक बन चुका है I हमारे शिक्षक बिना किसी बाधा के बच्चों को प्रौद्योगिकी की मदद से पढ़ा रहे हैं I 
डीएवी संस्था संभावनाओं और अवसरों का केंद्र है I भारत के शैक्षिक परिदृश्य में गुणवत्तापूर्ण शिक्षा एवं उत्कृष्टता के लिए डीएवी एक महत्वपूर्ण स्थान रखता है I कुशल और सशक्त प्रबंधन के फलस्वरूप यह विकास पथ पर निरंतर आगे बढ़ रहा है I
 मुझे आशा है कि यह नया शैक्षणिक वर्ष उपलब्धियों से भरा होगा I मैं कामना करता हूं कि बच्चे अपनी पढ़ाई में सफल हो एवं शानदार प्रदर्शन से नए कीर्तिमान स्थापित करें I आप से सादर आग्रह है कि अपने बच्चों को अनुशासित एबं मर्यादित बनाने मे हमें सहयोग करें।  घर परिवार में आपके सहयोग से ही बच्चों को अनुशासित  करने  का हमारा लक्ष्य प्राप्त हो सकता है।  आइए अपने बच्चों के भविष्य निर्माण में अपनी भागीदारी सुनिश्चित करें I           
 
साभार   ,                               
डॉ0 के सी श्रीवास्तव 
क्षेत्रीय अधिकारी 
डीएवी पब्लिक स्कूल्स 
झारखंड जोन सी 
धनबाद

 

 

 

 
Contact Us ↓
 


DAV PUBLIC SCHOOL, KOYLANAGAR
BCCL Township, Dhanbad
Koylanagar, Jharkhand - 826005
Phone : 0326-2230715
E-Mail Id: davkoylanagar@gmail.com
Website: davkoylanagar.com

Location Map ↓